Entertainment The Adirshi Zone

  • You need a minimum of 50 Posts to be able to send private messages to other users.
  • Register or Login to get rid of annoying pop-ads.

Yug Purush

सादा जीवन, तुच्छ विचार
Staff member
Moderator
Messages
20,286
Reaction score
18,941
Points
143
ये काली काली झाटे, तू रु रु..तू रु रु
ये गोरे गोरे गांड.... :poet:
 

Adirshi

You want to play? Let's play.
Staff member
Moderator
Messages
23,935
Reaction score
30,035
Points
173
ये काली काली झाटे, तू रु रु..तू रु रु
ये गोरे गोरे गांड.... :poet:
ये लम्बी लम्बी टाँगे, तू रु रु.. तू रु रु
टांगो के बीच मे माल....
 

u.sir.name

Hate girls, except the one reading this.
Messages
6,831
Reaction score
9,743
Points
143
ये लम्बी लम्बी टाँगे, तू रु रु.. तू रु रु
टांगो के बीच मे माल....
देखा जब तेरी चूत को सनम,
हुआ है लन्ड का बुरा हाल
 

Adirshi

You want to play? Let's play.
Staff member
Moderator
Messages
23,935
Reaction score
30,035
Points
173
New story
July 21, 2021

:writing:
 

Adirshi

You want to play? Let's play.
Staff member
Moderator
Messages
23,935
Reaction score
30,035
Points
173

Adirshi

You want to play? Let's play.
Staff member
Moderator
Messages
23,935
Reaction score
30,035
Points
173
"ए चांद आजा तुझे बाहों में सुला लूं"

इजाजत हो तो, तुझे दिल में बिठा लूं
ए चांद आजा तुझे, बाहों में सुला लूं
तेरे आंचल में खोया सा हूं मत जगा मुझे
तुम चाहो तो इस दिल को यही पर छुपा लूं
ये लोग कह रहे थे ये चांद सबका है,
ए जान कहो तो इन सबको जला दूं
मेरा चांद मेरी आखों में जो देख ले,
खुदा कसम आखों से तस्वीर मैं बना दूं
बेहतर इश्क की उम्मीद हुई है मुझसे,
आ चांद मैं तेरे होश में होश गवा दूं
दिल बड़े मुद्दत से खुलकर आज आंगन में
चल तुझे दिल की हर बात बता दूं
एक तेरी तस्वीर से मैं इश्क कर लूं,या तेरी तस्वीर बना लूं
बता ए चांद तुझे मैं अपनी तकदीर बना लूं
 

Dungeon Master

Magic or sorcery is not a practice, it is a living
Staff member
Moderator
Messages
13,025
Reaction score
9,285
Points
143
"ए चांद आजा तुझे बाहों में सुला लूं"

इजाजत हो तो, तुझे दिल में बिठा लूं
ए चांद आजा तुझे, बाहों में सुला लूं
तेरे आंचल में खोया सा हूं मत जगा मुझे
तुम चाहो तो इस दिल को यही पर छुपा लूं
ये लोग कह रहे थे ये चांद सबका है,
ए जान कहो तो इन सबको जला दूं
मेरा चांद मेरी आखों में जो देख ले,
खुदा कसम आखों से तस्वीर मैं बना दूं
बेहतर इश्क की उम्मीद हुई है मुझसे,
आ चांद मैं तेरे होश में होश गवा दूं
दिल बड़े मुद्दत से खुलकर आज आंगन में
चल तुझे दिल की हर बात बता दूं
एक तेरी तस्वीर से मैं इश्क कर लूं,या तेरी तस्वीर बना लूं
बता ए चांद तुझे मैं अपनी तकदीर बना लूं
:applause: :applause:
 

Adirshi

You want to play? Let's play.
Staff member
Moderator
Messages
23,935
Reaction score
30,035
Points
173

Adirshi

You want to play? Let's play.
Staff member
Moderator
Messages
23,935
Reaction score
30,035
Points
173
उसका साया बन कर रहूँ दिल चाहता है!
उसकी शैतानियों को भूल जाऊँ दिल चाहता है!
उसकी बातें उससे ही करने को दिल चाहता है!
उसके शिकवे पर लुट जाने को दिल चाहता है!
उसकी खुशी के लिए जोकर बन जाने को दिल चाहता है!
उसकी तकलीफ में हमदर्द बन जाने को दिल चाहता है!
उसे चूड़ी ,बिंदी,कंगन, पायल, झुमका दिला दूँ दिल चाहता है!
उसे रखूं हमेशा अपने साये में ,दिल चाहता है!
उसकी मासूमियत पर जब कुछ लुटाने को दिल चाहता है!
 
Top

Dear User!

We found that you are blocking the display of ads on our site.

Please add it to the exception list or disable AdBlock.

Our materials are provided for FREE and the only revenue is advertising.

Thank you for understanding!