• If you are trying to reset your account password then don't forget to check spam folder in your mailbox. Also Mark it as "not spam" or you won't be able to click on the link.

Incest SAFAR - MERI BEHNO KI TRISHNA

NikkuatXF

Member
114
268
78
लेखक स्नेहा की शर्त और मेहक की कसम के बीच उलझ गया है.. कहानी में सस्पेंस डालने और लंबा खीचने के चक्कर में अपने मूल प्लाट से भटक गया है...

अब कहानी को पूरा करने का एक ही रास्ता है कि सुहागरात को मेहक और स्नेहा का थ्रीसम कराया जाये और विनी के सिवाय किसी और के सामने मेहक की चुदाई का राज़ ना लाया जाये...

उसके बाद स्नेहा चाहे तो बहनो की चुदाई बंद करा दी जाये, या सभी बहनो के साथ थ्रीसम हो, या हीरो ये शर्त रखे कि जब भी किसी बहन को चुदाई की जरूरत हो तो स्नेहा से इजाजत ले...या उसके सामने चुदाई कराये...

वैसे अभी तक कहानी अच्छी तरह चल रही थी....

विनती है कहानी को पूर्ण जरूर करे...
 
Last edited:

Mking

Active Member
1,423
1,621
143
Ek story bahut hi achha laga tha dil ko chu jane wala Pyaar100 baar,bus humlogo chor gaya,ye story bhi dil se sahne laga tha Sayed ye bhi...
Ab to dar lagne laga hei,ki kisi story ko dil lagao ki nehi.
 
Top