• If you are trying to reset your account password then don't forget to check spam folder in your mailbox. Also Mark it as "not spam" or you won't be able to click on the link.

Shayari Kavita-sayri

Raj_sharma

Well-Known Member
10,676
19,054
228
तेरी धड़कन ही जिंदगी का किस्सा है मेरा,
तू ज़िन्दगी का एक अहम हिस्सा है मेरा
मेरी मुहब्बत तुझसे सिर्फ लफ़्ज़ों की नही है
तेरी रूह से रूह तक का रिश्ता है मेरा…
 
  • Love
Reactions: Shetan and Xabhi

Raj_sharma

Well-Known Member
10,676
19,054
228
जिंदगी के फलसफे निराले हैं ।
जो बया ना हो वो अफसाने हैं ।
दूर से मोहब्बत का इजहार क्या
रूबरू जो है वही अपने हैं ।
कहने को दुनिया में दोस्त बहुत हैं ।
जो अनकही बातें समझे वही तो सच्चे हैं ।
मुश्किल का हंस कर सामना जो करते हैं ।

बेबाक जिंदगी का रुतबा सर आंखों पर रखते हैं ।❣️
 
  • Love
Reactions: Aladdin_

Aladdin_

Demon 😈 prince🤴
3,479
11,549
144
Mai to acha hu per wo naraaj hai mujh se baat nahi karti aaj kal:verysad:
Aisa kyu 🥲
 
  • Sad
Reactions: Raj_sharma

Raj_sharma

Well-Known Member
10,676
19,054
228
Last edited:
  • Sad
Reactions: Aladdin_

Aladdin_

Demon 😈 prince🤴
3,479
11,549
144
  • Like
Reactions: Raj_sharma

Raj_sharma

Well-Known Member
10,676
19,054
228
  • Sad
Reactions: Aladdin_

Aladdin_

Demon 😈 prince🤴
3,479
11,549
144
  • Like
Reactions: Raj_sharma

Raj_sharma

Well-Known Member
10,676
19,054
228
  • Love
Reactions: Aladdin_

Aladdin_

Demon 😈 prince🤴
3,479
11,549
144
  • Like
Reactions: Raj_sharma

Raj_sharma

Well-Known Member
10,676
19,054
228
हम जो मिले है तुमसे,
इत्तेफाक थोड़ी है।
मिलके भूल जाए तुम को,
मजाक थोड़ी है।
अगर होता इश्क,
एक हद तक तुमसे,
तो भूल जाते तुम्हे,
पर हमसे तुम्हारी मोहब्बत का हिसाब थोड़ी है।
ये जो इश्क हुआ है तुमसे,
तुमसे तुम्हारा होने की आदत लगी हमे,
तुमसे तुम तक आना,
कोई ख्वाब थोड़ी है,
तुम्हे हकीकत समझे,
या समझे भ्रम हम अपना,
तुमसे दूर जाना कोई आदत थोड़ी है,
हमे हमारा मिलना आज भी याद है,
तुम मेरी ही रहो हर दम,
कोई जवाब थोड़ी है,
अब तुम ढूंढोगे मेरी इस गजल का जवाब,
ये मेरे दिल है,
कोई किताब थोड़ी है।
हमारा तुम्हारा होना,
कोई आदत थोड़ी है,
हम भूल जय तुम्हे,
कोई सिकायत थोड़ी है,
तुम तो सुकून में रहते हो हमारे,
अब तुम्हे सुकून ही न समझे,
तो मोहब्बत कैसी है,
लोग कहते है,
तुम्हारा इजहार होता है बातो में,
हम तुम्हे हर दफा एक राज ही कहते है,
अब मोहब्बत में तुम्हे बदनाम करे,
तो ये आशिक़ी कैसी है,
हम जो मिले है तुमसे,
इत्तेफाक थोड़ी है।
मिलके भूल जाए तुम को,
मजाक थोड़ी है।❣️
 
Last edited:

Raj_sharma

Well-Known Member
10,676
19,054
228
Top