• If you are trying to reset your account password then don't forget to check spam folder in your mailbox. Also Mark it as "not spam" or you won't be able to click on the link.

Incest पापी परिवार

Lodon Ka Raja

Leaving for Few Months BYE BYE TAKE CARE
6,180
48,021
219
ye kahani pahle bhi xossip par thi par puri nahi hui hai
to main ise yaha par likhne ja raha hu
iske writer ka name mujhe malum nahi hai par kaamdev990008 ne mujhe
iske writer ka name MISS_XB bataya hai ...

or agar kuch or name ho to bata dena main yaha par mention kar dunga


चेतावनी ........... ये कहानी समाज के नियमो के खिलाफ है क्योंकि हमारा समाज मा बेटे और भाई बहन और बाप बेटी के रिश्ते को सबसे पवित्र रिश्ता मानता है अतः जिन भाइयो को इन रिश्तो की कहानियाँ पढ़ने से अरुचि होती हो वह ये कहानी ना पढ़े क्योंकि ये कहानी एक पारवारिक सेक्स की कहानी है



दोस्तो आपके लिए एक ऑर मस्त कहानी हिन्दी फ़ॉन्ट मे पेश करने जा रहा हूँ


इस कहानी के कुछ अंश


लड़की उसी चेर पर बैठ गयी जिस पर थोड़ी देर पहले जीत बैठ हुआ था

" तो जीत ने कहा था तुम मेरा ख़याल रखोगी ..पर कैसे ? "
दीप तो शुरू से ही कमीना था ..
लड़की ने थोड़ा सा हरा सिग्नल क्या दिया
वो तो जैसे चुदाई की ही सोच बैठा
" वेल ..वो तो आप की पसंद पर डिपेंड करता है ..
तो बताइए क्या मँगाऊ ..ठंडा या गरम्म्म्ममम "

लड़की ने गरम शब्द पर ज़्यादा ज़ोर दिया और
साथ की अपनी टाँगो की जड़ को काफ़ी ज़्यादा स्प्रेड भी कर लिया

01_300.jpg


..टाइट जीन्स मे फसि उसकी मस्क्युलर थाइस दीप के दिल पर बिजलियाँ गिराने लगी .
.उसे समझते देर नही लगी कि आइटम चालू है
" ठंडे के लिए तो ए/सी काफ़ी है अंड आइ लीके हॉट स्टफ "
दीप ने हिम्मत कर उसकी जाँघ पर हाथ रखा और धीरे - धीरे उसे सहलाने लगा
" बस यही थॉट तो ग़लत है मर्दो की ..
बातें बड़ी अच्छी करते हैं
पर बात को पूरा करने मे 2 मिनट. से ज़्यादा नही टिक पाते "
लड़की ने उसे आँख मार कर कहा
" तो खुद ही कन्फर्म कर लो कितना जोश होता है मर्दो मे "


 
Last edited:

Lodon Ka Raja

Leaving for Few Months BYE BYE TAKE CARE
6,180
48,021
219
इस कहानी के कुछ अंश


दीप को लंड चुसवाने मे बड़ा मज़ा आता था
और उसके विपरीत बीवी कम्मो को ये बिल्कुल पसंद नही था ..
लाख बार इन्सिस्ट करने पर भी कामिनी की ज़ुबान पर
एक ही शब्द आता था ' ना ' और सिर्फ़ ' ना ' ..
एक ये कारण भी था कि दीप का मंन जल्दी अपनी बीवी से भर गया
और कामिनी केवल नाम की बीवी रह गयी "

.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
" हॅव पेशियेन्स बेबी ..आज सिर्फ़ ब्रेकफास्ट ..
लंच और डिन्नर फिर कभी कर लेना "
ये बोल कर लड़की मुस्कुराइ और
कहीं ना कहीं दीप को भी ये सही लगा ..
इस तरह खुले कॅबिन मे चुदाई पासिबल नही थी ..

तो चूत की कसर मे दीप ने उसके सर को पकड़ा
और तेज़ी से उसका मूँह चोदने लगा ..


38408


उसके हर धक्के से लंड लड़की के गले तक उतर जाता ..
सिसकियों ने कमरे मे एक तूफ़ानी समा बाँध दिया ..
चोक होते - होते लड़की की आँखें नम होने लगी थी ..
पर दीप को पूरा प्लेषर मिले इस लिए वो हर झटका सहती रही ..
उसके फ्री हाथ लगातार दीप के टट्टों को मसले जा रहे थे ..
इस दोहरे मज़े ने दीप को मज़े की हद पर ला दिया
" ओह....... आइ थिंक आइ'म कमिंग "
दीप ने अपने जर्क तेज़ करते हुए बोला ..
उसने सोचा पहले बता देने से लड़की का रेस्पॉन्स मिल जाएगा
कि वो कम मूँह के अंदर निकालना चाहती है या बाहर
लड़की ने हाथ से इशारा कर उसे कंटिन्यू रहने को कहा
और अगले ही पल लंड से फवारे छ्छूटने लगे

38973


" आहह....... फुक्कककक....... "
 
Last edited:

Lodon Ka Raja

Leaving for Few Months BYE BYE TAKE CARE
6,180
48,021
219
इस कहानी के कुछ अंश


" नो वे डॅड ..आप जाओ ..
हर बार की तरह इस बार भी मैं दर्द बर्दास्त कर लूँगी ..
मुझे कुछ नही दिखाना "
निम्मी ने उसकी पकड़ से छूट ते हुए कहा तो दीप को
और भी ज़्यादा अफ़सोस हुआ
" बेटा अगर दिखाएगी नही तो इलाज कैसे होगा ..
मैं प्रॉमिस करता हूँ तेरा दर्द कम कर दूँगा "
दीप ने इस बार अपने दोनो हाथो के ज़ोर से उसे पेट के बल लिटाया
और उसे अपनी तरफ खीचना शुरू किया ..
निम्मी के पास भी इस वक़्त हालात से समझोता करने के अलावा
और कोई चारा नही बचा था ..एक सोचा - समझा मज़ाक
ऐसा दर्दनाक मोड़ ले लेगा उसने कल्पना भी नही की थी ..
बस दीप को थोड़ा सा परेशान कर वो अपने कमरे से रुखसत कर देती ..
लेकिन बात कहाँ तक पहुच गयी
" ऊपर तो उठा इसे "
जब निम्मी के चूतर उसकी सीध मे आ गये


2144181_01.jpg



तब
दीप ने उन्हे हाथ से थप थपा ऊपर उठाने को कहा ..
निम्मी ने पहली बार किसी अग्याकारी बच्चा होने का सबूत दिया
और अब उसकी गान्ड ठीक डॅड के चेहरे के सामने थी ..
दीप ने एक लंबी साँस ली और अपनी नज़रें उसके दरार बंद चूतडो से जोड़ दी
" डॅड जो भी करो जल्दी करना ..मुझे सच मे बहुत पेन है "
 
Last edited:

Lodon Ka Raja

Leaving for Few Months BYE BYE TAKE CARE
6,180
48,021
219
इस कहानी के कुछ अंश

" बेटा इन्हे ढीला छोड़ और पूरी तरह रिलॅक्स हो जा "
उसने हाथ के प्रेशर से चुतडो के पट को खोलते हुए कहा

07_300.jpg


" डॅड मुझे शरम आ रही है "
निम्मी ने और ज़ोर लगा कर उसके हाथो को ऐसा करने से रोकने की कोशिश की
" डॅड से कैसी शरम बेटा ..
वैसे मैं जानता हूँ ये ग़लत है
लेकिन मान मैं एक डॉक्टर हूँ और तू मेरी पेशेंट है ..
तेरे इलाज के लिए ही मैं ऐसा कर रहा हूँ "
दीप ने उसे समझाया और
निम्मी ने अपने पिछवाड़े को पूरी तरह से ढीला छोड़ दिया ..
और अलगे ही पल एक बाप की आँखों के सामने खुद की बेटी

12_300.jpg


का सुर्ख भूरा गांद का छेद और
कुँवारी बिना झाटों की फूली चूत थी ..
कॅप्री काफ़ी नीचे थी जिस से ये सीन और भी ज़्यादा कातिलाना था
 
Last edited:

Lodon Ka Raja

Leaving for Few Months BYE BYE TAKE CARE
6,180
48,021
219
इस कहानी के कुछ अंश

दीप के मूँह से ऐसी बातें सुन निम्मी ताड़ गयी कि
अगर अब इस नाटक को यहीं ख़तम नही किया तो
उसका अपने डॅड से चुदना तय है और
तो और दीप ने अब तक उसके अन्छुए छेदो से छेड़खानी भी शुरू कर दी थी

" छ्हीईइ डॅड कितनी गंदी जगह चाट रहे हो

38499

और आप की बात का मतलब क्या है ? "
निम्मी ने गंदा सा मूँह बना कर उससे सवाल किया ..
अपनी चूत का चाटा जाना उसे एक अलग ही मज़ा दे रहा था
लेकिन बात इससे आगे ही बढ़ती जिसे रोकना भी ज़रूरी था
" मतलब ये कि इस दुनिया मे भले ही इंसान किसी भी रिश्ते से जुड़ा हो ..
पर कुछ शारीरिक ज़रूरतें ऐसी होती हैं
जो उन रिश्तो से परे हैं ..सॉफ शब्दो मे कहो तो चूत - चूत होती है
चाहे अपनी बेटी की हो या किसी पराई औरत की ..र
ही बात चाटने की तो मेरी बेटी के बदन मे कुछ भी गंदा नही ..
मैं अभी इस गांद के छेद को चाट कर तेरा सारा दर्द मिटा दूँगा "
 
Last edited:

Nasn

Well-Known Member
2,896
4,748
158
मुख्य अंशों से ही लगता है है
की ये एक पारिवारिक फुल एन्जॉय
धमाका स्टोरी होगी...


जैसी स्टोरी रीडर चाहते है
इस स्टोरी में मिलेगा....


लेकिन सर मेरी requst है
निम्मी बेटी को शादीशुदा दिखाएंगे
तो बाप बेटी के सेक्स रिलेशन में
और मज़ा आएगा....


वैसे आप स्वयं महान लेखक है
जो चाहे लिखें
but इसे पूरा जरूर करें



THANKS....
 

Asim342

Cowboy
905
1,412
138
Ansh to bahut acha h sayad story or v acha ho
 
Top