Incest ठरकी दामाद की हवस

  • You need a minimum of 50 Posts to be able to send private messages to other users.
  • Register or Login to get rid of annoying pop-ads.

Jash1990

New Member
Messages
36
Reaction score
188
Points
33
वो भले ही अपने होश खो बैठा था, पर पूजा अपने होश में थी,और गुस्से में
भी, उसने अजय को धक्का दिया और जल्दी से अपनी टी शर्ट उठा कर पहन
ली...अजय तो दूर खड़ा हुआ उस खूबसूरती की मूरत के मुम्मे देखता रह
गया...इतने रसीले और अनछुए से मुम्मे थे उसके की मन कर रहा था की उन्हे
निचोड़ डाले...
पूजा का चेहरा गुस्से से तमतमा रहा था...उसने नीचे तो पेंटी पहनी हुई थी

images


पहले से, इसलिए अजय उसकी चूत नही देख पाया...पर उसके बदन से अपनी आँखे
हटाने का नाम नही ले रहा था वो..
पूजा ने जल्दी से अपनी जीन्स भी पहन ली...
पूजा :"जीजू, मुझे आपसे ये उम्मीद नही थी....आप इस तरह से मेरे कमरे में आकर ...''
वो रुंआसी सी हो गयी...
अजय : "अरे, मैने ये सब जान बूझकर नही किया....मैं तो बस अभी आया था
और तुम्हे ऐसे कपड़े प्रेस करते देखकर सोचा की पीछे से आकर तुम्हे डरा दू ...और
उसके बाद तो तुम एकदम से घबरा गयी...और ये टॉवल क्या मैने खोला था
जो ऐसे बोल रही हो...ये तो बस एक्सिडेंट्ली खुल गया...''
पूजा : "पर आपने सब देख भी तो लिया ना...''
अजय : "तो क्या हुआ...तुम मेरी साली हो ना, और साली तो आधी
घरवाली होती है....''
पूजा : "आप बहुत गंदे हो जीजू....जाइए मुझे आपसे कोई बात नही करनी ...''
तभी पीछे से रजनी की आवाज़ आई : "अरे क्या हो गया, अपने जीजू से किस
बात पर नाराज़ हो रही है तू...''
अपनी माँ को वहाँ देखकर वो कुछ कहने ही वाली थी की अजय पहले ही
बोल पड़ा : "हाँ, हाँ बोलो अब...बताओ मैने क्या किया....''
पूजा का चेहरा देखने लायक था...वो कुछ कहना चाहती थी पर कुछ निकल
ही नही रहा था उसके मुँह से...फिर भी वो बोली : "देखो ना माँ ,मेरे रूम में
बिना नॉक करे घुस आए जीजू....''
रजनी ने इस बात पर उसे ही डांट दिया : "तो क्या हुआ, ये भी हमारे घर का
सदस्य है अब...तेरे जीजू है ये...ऐसे नही बोलते, चलो सॉरी बोलो इन्हे...''
अजय : "अरे नही , इसको क्यो डांट रहे हो...जीजा साली के बीच तो ये सब
चलता ही रहता है...''
रजनी : "हाँ , इसमे गुस्सा करने वाली क्या बात है, मेरे जीजू तो पता नही
क्या-2 कर लेते थे मेरे साथ...''
एक बार फिर से अजय की शरारत भरी नज़रें रजनी को घूरने लगी, और रजनी
का चेहरा फिर से लाल हो उठा...पूजा बुदबुदाती हुई वहाँ से बाहर निकल गयी.
अजय धीरे-2 चलता हुआ रजनी के पास आया और बोला : "आपने तो बड़े
किस्से छुपा रखे हैं अपनी जवानी के दिनों के...मुझे भी तो कुछ बताइए...''
रजनी शरमाते हुए बाहर भागी : "बेशरम हो एक नंबर के तुम तो....''
उसके जाने के बाद अजय ने वो गीला टावल उठाया और उसमे से पूजा के
जिस्म की खुश्बू सूंघता हुआ बोला : "बेशरम नही , ठरकी हूँ मैं ....ठरकी ...'
और फिर वो बाहर चल दिया..उसे अपनी रूठी हुई साली को भी तो
मनाना था..
अजय बाहर निकल आया और सोफे पर बैठी पूजा के पास आकर बैठ गया,
रजनी उनके लिए नाश्ता बनाने फिर से किचन मे चली गयी.
अजय : "अरे बाबा, अब इतना भी क्या नाराज़ होना अपने जीजा से...ये
लो, मैं माफी माँगता हूँ तुमसे, कान पकड़कर ..अब ठीक है...''
पूजा ने उसकी तरफ देखा और अजय के भोले से चेहरे को देखकर उसकी भी
हँसी निकल गयी...और ये भी भूल गयी की अभी कुछ देर पहले यही भोले चेहरे
वाला उसे टॉपलेस देख रहा था..
पूजा : "बट आपको प्रोमिस करना होगा की आप आगे से कभी भी ऐसा
नही करेंगे..''
अजय : "प्रॉमिस...अगर तुम खुद भी ऐसे टॉपलेस होकर मेरे सामने आ गयी तो
मैं अपनी आँखे बंद कर लूँगा...''
पूजा (अपनी आँखे नचाते हुए) : "ओये होये, बड़े शरीफ हो ना, इतना तो मुझे
भी मालूम है, अगर मैं ऐसे खुद ही आपके सामने आ गयी ना, तो टूट पड़ोगे मेरे
उपर आप...''
अजय : "तो ट्राइ कर लो ....आकर दिखाओ ऐसे ही एक बार फिर से ...देखते हैं
की मुझसे सब्र होता है या नही...''
पूजा का चेहरा देखने लायक था, बेचारी अपनी ही बात में खुद ही फँस गयी थी..
पूजा : "देखो जीजू, आप फिर से शुरू हो गये....''
अजय (फिर से कान पकड़कर) : "ओके बाबा ....अब नही....तुम चाहो तो मुझे
इसके लिए कोई सज़ा दे दो...''
उसकी ये बात सुनकर पूजा का चेहरा एकदम से खिल उठा..और वो तपाक से
बोली : "शॉपिंग..''
अजय : "हाँ हाँ क्यों नही ..चलो अभी चलते हैं ..''
पूजा : "और आपका ऑफीस ..."
अजय ने बड़े स्टाइल से अपना फोन निकाला और एक नंबर लगाकर बोला :
"सुनो दीपक, मैं आज ऑफीस नही आ सकूँगा...मुझे अपनी साली को
शॉपिंग करवाने ले जाना है...बॉस को बोल देना..बाइ''
उसकी ये बात सुनकर पूजा इतनी इंप्रेस हुई की एकदम से उछलकर वो अजय के
गले से जा लगी..और अजय ने भी उसकी कमर मे हाथ डालकर उसकी छाती के
नरम हिस्से को अपनी चेस्ट से लगा कर ज़ोर से भींच दिया..पूजा के मुँह से एक
आह्ह्ह निकल गयी..



images-1
तभी पीछे से रजनी की आवाज़ आई : "तो हो गयी सुलह जीजा-साली में ...हम्म्म ...''
दोनो बेचारे ऐसे अलग हुए जैसे दोनो की चोरी पकड़ी गयी हो...
और रजनी मंद-2 मुस्कुराते हुए उनके लिए नाश्ता लगाकर चली गयी.अजय
यही सोचता रह गया की उसकी सास ने कोई इश्यू क्यों नही बनाया इस
बात का..
खैर, उसके बाद सभी ने मिलकर नाश्ता किया और पूजा ने कहा की वो
अजय के साथ शॉपिंग जा रही है,रजनी ने भी कुछ नही कहा और कुछ ही देर
में अजय और पूजा उसकी गाड़ी मे बैठकर एक बड़े से माल की तरफ चल दिए.
पूजा ने रेड कलर की टी शर्ट पहनी थी और नीचे जीन्स, और टी शर्ट शार्ट में
थी, इसलिए उसकी नाभि वाला हिस्सा बड़े ही सेक्सी तरीके से उजागर
हो रहा था


images-2
आज अजय पूजा को अच्छी तरह से इंप्रेस करना चाहता था, इसलिए उसने
पूजा को कुछ भी लेने की छूट दे दी.
वैसे तो वो अपनी बीबी प्राची को भी खुलकर शॉपिंग करवाता था पर
आज बात कुछ और थी...अपनी शॉपिंग के बदले वो पूजा और अपने बीच की
उस दूरी को मिटाना चाहता था जिसे पूजा अच्छा नही मानती थी.
वो दोनों करीब 3 घंटे तक शॉपिंग करते रहे , और पूजा ने अपनी पसंद का
काफी सामान भी लिया
वो एक बड़े से शोरुम से निकल ही रहे थे की अचानक पूजा ने चौंकते हुए कहा :
"ओह्हो ये सोनी की बच्ची को यहीं पर आना था...''
अजय ने भी उस तरफ देखा जहाँ पूजा की नज़रें थी, तो उसकी आँखे फटी की
फटी रह गयी...एक लंबी और सेक्सी सी लड़की एक चूज़े जैसे लड़के के साथ घूम
रही थी, दोनो ने एक दूसरे की बाहों मे बाहें डाली घूई थी..लड़का तो झंडू
सा था पर वो लड़की पटाखा थी एकदम...रंग बिल्कुल सांवला सा था पर
उसके हर डिपार्टमेंट में काफ़ी माल भरा हुआ था, छातियाँ लगभग 36 की
थी...एकदम टाइट..और उसपर उसने जो टॉप पहना हुआ था वो भी सिर्फ
पतली डोरी पर ही टिका हुआ था ...और नीचे उसने एक लॉन्ग स्कर्ट पहनी
हुई थी जिसके साइड में कट था जिसमे से उसकी गुदाज और मांसल टांग पूरी
नंगी थी... और नीचे लॉन्ग बूट..... उसकी जांघों की मांसपेशिया चलने से
अलग ही चमक रही थी...और पीछे की तरफ निकली हुई उसकी गांड भी
काफी बड़ी थी और उसकी आँखे बड़ी ही सेक्सी थी ...


images-3


बॉडी पर काफी टैटू
भी बनवा रखे थे उसने जिसकी वजह से वो बहुत सेक्सी लग रही थी , ऐसा लग
रहा था की जैसे कोई मॉडेल रेम्प वॉक से निकलकर सीधा वहाँ आ गयी
है..ब्लैक ब्यूटी लग रही थी वो...
अजय को ऐसे बिना पलकें झपकाए उस तरफ देखते हुए पाकर पूजा ने उसे
आवाज़ दी : "जीजू.....ओ जीजू .... कहाँ खो गये...सच में आप मर्दों को तो
बस कोई लड़की दिखनी चाहिए....लार निकलने लग जाती है बस...''
अजय ने झेंपटे हुए अपनी नज़रें पूजा की तरफ कर ली..
पूजा : "वो मेरी क्लासमेट है...सोनी ...और वो उसका बाय्फ्रेंड है...शायद...''
अजय : "शायद ..??''
पूजा : "हाँ , शायद, क्योंकि मैने भी आज पहली बार ही इस लड़के को देखा
है....सोनी ने बताया था की कॉलेज के बाहर का है उसका ये बाय्फ्रेंड...''
अजय : "तो चलो ना...मिलते हैं इनसे...आख़िर तुम्हारी क्लासमेट है ...''
ऐसी सेक्सी लड़की से मिलने के लिए कौन नही तड़पेगा ...
पूजा ने उसकी बाजू पकड़ कर उसे रोक दिया और फुसफुसाई : "अर्रे नही
जीजू .....अभी नही मिल सकती मैं ....''
अजय : "क्यों ??..''
पूजा (झिझकते हुए) : "वो ...दरअसल ....कल सोनी ने मुझे बोला था की
उसका बाय्फ्रेंड आ रहा है और मैने भी उसको झूट बोला हुआ था की मेरा
भी एक बाय्फ्रेंड है जो कॉलेज के बाहर का है...तो उसने सजेस्ट किया था
की आज हम सभी मूवी चलते हैं...मैने तो बहाना बना कर मना कर दिया...पर
आपके साथ अचानक शॉपिंग का प्रोग्राम बना तो मुझे इसके बारे में याद
ही नही रहा...और ये पागल यहीं पर मिल गयी....चलो ना जीजू कहीं और
चलते हैं..''
अजय : "ज़रा सी है नही तू और इन चक्करों में पड़ी है , तेरी दीदी को बोल
दिया ना तो अच्छी तरह से खबर लेगी वो...''
पूजा : "वो तो घर की बात है जीजू, अभी तो चलो, मुझे इसके सामने एम्बेरस
नही होना अभी...''
अजय बेचारा मन मारकर रह गया, और अपनी साली की बात मानकर
पलटकर माल से बाहर की तरफ चल दिया.वैसे भी वो एक ही दिन में
दोबारा उसे नाराज नहीं करना चाहता था
और तभी उन्हे पीछे से आवाज़ सुनाई दी
''अरे , पूजा....तू यहाँ .....''
पूजा ने अपनी आँखे भींच ली और बुदबुदाई ''मर गयी....''
और फिर हंसते हुए एकदम से पलटी और सोनी को देखकर चौंकने का नाटक
करती हुई बोली : "सोनी ....तू यहाँ ....ओह्ह माय गॉड ....आई कांट बिलीव इट ....''
और वो भागती हुई गयी और उससे लिपट गयी..
सोनी की नज़रें अजय को घूर रही थी...और उसके साथ उसका उल्लू जैसा बी
एफ बेचारा कुछ समझने की कोशिश कर रहा था..
सोनी : "यू लॉयर , तूने तो मना करा था, फिर कैसे आ गयी...''
पूजा : "अरे नही, ऐसा कुछ नही है...दरअसल ...चल छोड़, वो बाद में बताउंगी ,
इनसे मिल, ये है मेरे.....''
उसकी बात को काटकर अचानक अजय बीच में बोल पड़ा : "हाय , आई एम
अजय, पूजा का बाय्फ्रेंड...''
सोनी की आँखे गोल सी होकर रह गयी, इतना स्मार्ट लड़का और वो भी
इस मोटी सी दिखने वाली पूजा का बाय्फ्रेंड...और उसने झुककर पूजा के
कान में कहा : "ओह्ह माय गॉड पूजी, ही इज़ सो हॉट....''
पूजा बेचारी हैरान परेशान सी अजय को घूर रही थी....उसने तो इस बारे में
सोचा भी नही था की सोनी को ये भी बोल सकती है वो...पर अजय ऐसा
करेगा उसने सोचा भी नही था...वो अपनी आँखे गोल करके उससे इशारों में
पूछ रही थी की ऐसा क्यो किया तुमने..
अजय ने उसकी कमर में हाथ डालकर उसे अपनी तरफ खींचा और उसके कान में
कहा : "मुझे जीजा बताकर कुछ नही मिलता, अपना बाय्फ्रेंड बोलकर कुछ
इंप्रेशन जमाओ अपनी फ्रेंड के उपर...''
पूजा की आँखों में भी चमक आ गयी....वैसे भी आजकल इंप्रेशन का ही
जमाना है...हर कोई एक दूसरे से उपर ही दिखना चाहता है, फिर वो चाहे
ब्रांड हो या बाय्फ्रेंड...
और अजय किसी भी एंगल से शादी शुदा तो लगता ही नही था...और
स्मार्ट तो वो था ही...ऐसा बाय्फ्रेंड देखकर तो किसी भी लड़की को
अपनी फ्रेंड से जलन हो जाएगी..
पूजा ने भी उसका साथ देते हुए कहा : "बस ये अभी फ्री हुआ है, वरना तुमसे
पहले ही मिल चुके होते..''
सोनी तो अपनी आँखे फाड़-फाड़कर अजय को घूरे जा रही थी...वो भी
बोली : "हाँ...कुछ टाइमपास तो होता मेरा भी, मूवी भी बेकार सी
थी...और उपर से इसने भी बोर करके रख दिया...''
सोनी ने बुरा सा मुँह बनाते हुए अपने घोंचू बाय्फ्रेंड की तरफ इशारा
किया..वो बेचारा मुँह नीचे करके रह गया.
अजय समझ गया की सिर्फ पैसों के चक्कर में सोनी ने इसे अपना बी एफ
बनाया हुआ है
पूजा शायद ज़्यादा देर उनके साथ रुकना नही चाहती थी...वो बोली :
"ओके सोनी , हम चलते हैं...मुझे घर भी जल्दी पहुँचना है ....बाय ...कल कॉलेज
में मिलते हैं...''
इतना कहकर पूजा ने अजय की बाजू को अपनी बगल में लपेटा और निकल
गयी...अजय ने भी मौके का फायदा उठाते हुए अपनी कोहनी को उसके
मुम्मे के अंदर घुसा दिया...
पूजा : "जीजू, संभल जाओ...हाथ पकड़ा है,इसका मतलब ये नही की तुम मेरा
ग़लत फायदा उठाओ...''
अजय ने झुककर उसके कान पर किस्स कर दिया और बोला : "मैं तो अपनी
तरफ से सही फायदा उठा रहा हु, तुम्हे गलत लगे तो मैं क्या करूँ , वैसे वो अभी
तक हमें ही देख रही है...कुछ तो रियल लगना चाहिए ना...''
जवाब में पूजा ने एक बार फिर से चिढ़ते हुए अजय के कंधे पर हल्के से चपत लगा
दी..और दूर खड़ी सोनी समझ रही थी की कितना प्यार है इन दोनों में
...कल पता करूँगी इससे की कैसे पटाया इतना स्मार्ट लड़का ...
 

hariom1936

New Member
Messages
40
Reaction score
156
Points
33
Incest ठरकी दामाद की हवस

जैसा की नाम से ही आपको पता चल रहा है, ये कहानी है एक ऐसे ठरकी
इंसान (दामाद) की जो शादी के बाद खुले सांड जैसा हो गया है और उसे
अपने आस पास की हर चूत मारने लायक लगती है, चाहे वो छोटी हो या
बड़ी, जवान हो या बूढ़ी ..उन्हे देखकर ऐसी ठरक चड़ती है इसपर की वो दीन-
दुनिया भूलकर बस उन्हे पाने के सपने देखने लगता है..और ये सपने कितने पूरे होते
है ये तो आपको कहानी पढ़कर ही पता चलेगा..
वैसे तो हर दामाद ठरकी ही होता है,पर किस्मत साथ दे तो ऐसी ठरक अपने
मुकाम पर पहुँचाकर उन्हें क्या-2 मज़े दिलवा सकती है वो बताने की ज़रूरत
नही है..इस कहानी मे आपको वाइफ चीटिंग और एक्सट्रा मॅरिटल अफेयर्स
की दुनिया दिखेगी...
तो आइए दोस्तो, मैं आपको ले चलता हू इस ठरकी दामाद की लाइफ में ..
**********
Hello kon hai bhai tu, Kai sal pahle THARKI DAMAD ke nam se ye story aa chuki hai, word by word waha se churaya hai.

Ye kahani kai sal pahle THARKI DAMAD ke nam se aaa chuki hai, word by word copy kiya hai, see below some samples:

फ्रेंड्स ये कहानी अशोक की लिखी हुई है जो दूसरे फोरम पर चल रही है मैं इसे आपके लिए इस फोरम पर पोस्ट कर रहा हूँ

इस कहानी का क्रेडिट लेखक अशोक को जाता है

1 ********** इसका नाम है अजय, देखने मे स्मार्ट, बिल्कुल बॉलीवुड एक्टर वरुण धवन जैसा... अजय 25 साल का नवयुवक है जो गुडगाँव की एक मल्टिनैशनल कंपनी मे काम करता है, सैलरी है 40000 ,माँ -बाप तो गाँव में रहते है उसके बड़े भाई और भाभी के साथ, जिन्हे ये हर महीने मिलने चला जाता है...वहाँ काफ़ी ज़मीने और खेत है इनके जिन्हे बड़ा भाई और उसके पिता संभालते है, उन्हे अजय के पैसों की ज़रूरत नही पड़ती, और इसलिए अजय अपनी कमाई के सारे पैसे खुद पर ही लुटाता है ... दिल्ली के विकासपुरी में एक बिल्डर फ्लोर किराए पर लेकर रह रहा था अजय, 3 बेडरूम का काफ़ी बड़ा फ्लेट था वो..अडोस पड़ोस के लोग भी काफ़ी मिलनसार थे, और मकान मालिक नीचे के फ्लोर पर रहता था..लगभग एक साल हो चुका था अजय को वहां रहते हुए. वो जहाँ रहता था, वो पूरी गली एक से बढ़कर एक भाभियों और उनकी जवान बेटियों से भरी पड़ी थी... और इस एक साल में उसने आस पास की हर लड़की और भाभी को अच्छी तरह से जाँचा - परखा था.. यानी, अपनी आँखो से..किसी के साथ ज़्यादा बोलकर वो अपनी इमेज खराब नही करना चाहता था..लेकिन था वो बड़ा ही घुन्ना टाइप का बंदा.. रोज रात को उनके बारे में सोच-सोचकर वो जोरदार मूठ ज़रूर मारता था.....ग़जब का स्टेमीना था उसका..सुबह ऑफीस जाने से पहले और रात को सोने से पहले वो मूठ मारता था....ये उसका लगभग रोज का नीयम था. नहाते हुए वो आँखे बंद करके भाभियों और उनकी बेटियों के बारे मे सोचता और मूठ मारता...अपने ख़यालो मे बस यही सोचता रहता की वो अगर मिल जाए तो कैसे मारेगा उसकी..क्या - क्या करेगा.. उसने आज तक अपनी लाइफ में किसी के साथ भी सैक्स नहीं किया था और सबसे ज़्यादा वो सोचता था अपने पड़ोस मे रहने वाली रजनी आंटी के बारे मे..जो लगभग 45 साल की थी..पर लगती थी सिर्फ़ 35 की ...हल्का भरा हुआ सा शरीर बिल्कुल जूही चावला जैसा.. उनके 3 बच्चे थे, एक बड़ा लड़का, जिसकी शादी पिछले साल ही हुई थी, वो अपनी बीबी के साथ मुंबई में रहता था..और 2 लड़कियाँ जो अभी कॉलेज में पड रही थी, दोनो पूना में पढ़ती थी ..घर पर सिर्फ़ वो अपने पति के साथ रहती थी..इसलिए अक्सर वो अजय के साथ घंटों छत पर गप्पे मारती रहती..और अजय का ध्यान तो बस उसके बड़े-2 मुम्मों पर ही रहता था.. रजनी को अजय काफ़ी पसंद था...वो उसके लिए अक्सर घर का बना खाना भिजवाती रहती थी...और हमेशा उसे शादी करने की भी सलाह देती रहती थी.. पर वो शायद नही जानता था की इन सब बातों के पीछे रजनी भाभी की क्या मंशा है.. एक दिन संडे मॉर्निंग अजय के दरवाजे पर दस्तक हुई , उसने टाइम देखा तो सिर्फ़ 8 बजे थे, आज तो उसने 10 बजे तक सोने का प्लान बनाया था.. उसने झल्लाते हुए दरवाजा खोला तो सामने रजनी भाभी खड़ी थी.. इतनी सुबह उन्हे देखकर वो हैरान रह गया. रजनी : "सॉरी अजय, बट तुम्हे मेरे साथ अभी रेलवे स्टेशन चलना पड़ेगा....मेरी दोनों बेटियां आ रही हैं पूना से, मैने कैब बुक करवाई थी और वो अभी तक नही पहुंची ...और उनकी ट्रेन के आने का टाइम हो रहा है...'' अजय उन्हे किसी बात के लिए मना नही कर सकता था, इसलिए जल्दी से तैयार होकर वो उनके साथ चल दिया..कुछ ही देर में वो स्टेशन पहुँच गए । रजनी भाभी अंदर चली गयी और वो बाहर कार में बैठकर उनका वेट करने लगा.. कुछ ही देर मे उसे रजनी आंटी और उनकी दोनो लड़कियाँ आती हुई दिखाई दी... और उन्हे देखकर अजय की आँखे फटी की फटी रह गयी.. ये लड़कियाँ एक साल में ही कैसे इतनी जवान सी हो गयी हैं.. दोनो की उम्र में 3 साल का फ़र्क था.. बड़ी वाली का नाम था प्राची, स्लिम ट्रिम सी, स्कर्ट और स्लीवलेस टॉप पहना हुआ था उसने , और काफी सेक्सी लग रही थी वो और छोटी का नाम था पूजा, . जीन्स के उपर टी शर्ट पहनी हुई थी..और उसका चेहरा बड़ा ही क्यूट सा था प्राची एम बी ए के फाइनल ईयर में थी और पूजा बी बी ए के फाइनल ईयर में

 
Last edited:

Raja maurya

Well-Known Member
Messages
2,407
Reaction score
5,683
Points
143
वो भले ही अपने होश खो बैठा था, पर पूजा अपने होश में थी,और गुस्से में
भी, उसने अजय को धक्का दिया और जल्दी से अपनी टी शर्ट उठा कर पहन
ली...अजय तो दूर खड़ा हुआ उस खूबसूरती की मूरत के मुम्मे देखता रह
गया...इतने रसीले और अनछुए से मुम्मे थे उसके की मन कर रहा था की उन्हे
निचोड़ डाले...
पूजा का चेहरा गुस्से से तमतमा रहा था...उसने नीचे तो पेंटी पहनी हुई थी

images


पहले से, इसलिए अजय उसकी चूत नही देख पाया...पर उसके बदन से अपनी आँखे
हटाने का नाम नही ले रहा था वो..
पूजा ने जल्दी से अपनी जीन्स भी पहन ली...
पूजा :"जीजू, मुझे आपसे ये उम्मीद नही थी....आप इस तरह से मेरे कमरे में आकर ...''
वो रुंआसी सी हो गयी...
अजय : "अरे, मैने ये सब जान बूझकर नही किया....मैं तो बस अभी आया था
और तुम्हे ऐसे कपड़े प्रेस करते देखकर सोचा की पीछे से आकर तुम्हे डरा दू ...और
उसके बाद तो तुम एकदम से घबरा गयी...और ये टॉवल क्या मैने खोला था
जो ऐसे बोल रही हो...ये तो बस एक्सिडेंट्ली खुल गया...''
पूजा : "पर आपने सब देख भी तो लिया ना...''
अजय : "तो क्या हुआ...तुम मेरी साली हो ना, और साली तो आधी
घरवाली होती है....''
पूजा : "आप बहुत गंदे हो जीजू....जाइए मुझे आपसे कोई बात नही करनी ...''
तभी पीछे से रजनी की आवाज़ आई : "अरे क्या हो गया, अपने जीजू से किस
बात पर नाराज़ हो रही है तू...''
अपनी माँ को वहाँ देखकर वो कुछ कहने ही वाली थी की अजय पहले ही
बोल पड़ा : "हाँ, हाँ बोलो अब...बताओ मैने क्या किया....''
पूजा का चेहरा देखने लायक था...वो कुछ कहना चाहती थी पर कुछ निकल
ही नही रहा था उसके मुँह से...फिर भी वो बोली : "देखो ना माँ ,मेरे रूम में
बिना नॉक करे घुस आए जीजू....''
रजनी ने इस बात पर उसे ही डांट दिया : "तो क्या हुआ, ये भी हमारे घर का
सदस्य है अब...तेरे जीजू है ये...ऐसे नही बोलते, चलो सॉरी बोलो इन्हे...''
अजय : "अरे नही , इसको क्यो डांट रहे हो...जीजा साली के बीच तो ये सब
चलता ही रहता है...''
रजनी : "हाँ , इसमे गुस्सा करने वाली क्या बात है, मेरे जीजू तो पता नही
क्या-2 कर लेते थे मेरे साथ...''
एक बार फिर से अजय की शरारत भरी नज़रें रजनी को घूरने लगी, और रजनी
का चेहरा फिर से लाल हो उठा...पूजा बुदबुदाती हुई वहाँ से बाहर निकल गयी.
अजय धीरे-2 चलता हुआ रजनी के पास आया और बोला : "आपने तो बड़े
किस्से छुपा रखे हैं अपनी जवानी के दिनों के...मुझे भी तो कुछ बताइए...''
रजनी शरमाते हुए बाहर भागी : "बेशरम हो एक नंबर के तुम तो....''
उसके जाने के बाद अजय ने वो गीला टावल उठाया और उसमे से पूजा के
जिस्म की खुश्बू सूंघता हुआ बोला : "बेशरम नही , ठरकी हूँ मैं ....ठरकी ...'
और फिर वो बाहर चल दिया..उसे अपनी रूठी हुई साली को भी तो
मनाना था..
अजय बाहर निकल आया और सोफे पर बैठी पूजा के पास आकर बैठ गया,
रजनी उनके लिए नाश्ता बनाने फिर से किचन मे चली गयी.
अजय : "अरे बाबा, अब इतना भी क्या नाराज़ होना अपने जीजा से...ये
लो, मैं माफी माँगता हूँ तुमसे, कान पकड़कर ..अब ठीक है...''
पूजा ने उसकी तरफ देखा और अजय के भोले से चेहरे को देखकर उसकी भी
हँसी निकल गयी...और ये भी भूल गयी की अभी कुछ देर पहले यही भोले चेहरे
वाला उसे टॉपलेस देख रहा था..
पूजा : "बट आपको प्रोमिस करना होगा की आप आगे से कभी भी ऐसा
नही करेंगे..''
अजय : "प्रॉमिस...अगर तुम खुद भी ऐसे टॉपलेस होकर मेरे सामने आ गयी तो
मैं अपनी आँखे बंद कर लूँगा...''
पूजा (अपनी आँखे नचाते हुए) : "ओये होये, बड़े शरीफ हो ना, इतना तो मुझे
भी मालूम है, अगर मैं ऐसे खुद ही आपके सामने आ गयी ना, तो टूट पड़ोगे मेरे
उपर आप...''
अजय : "तो ट्राइ कर लो ....आकर दिखाओ ऐसे ही एक बार फिर से ...देखते हैं
की मुझसे सब्र होता है या नही...''
पूजा का चेहरा देखने लायक था, बेचारी अपनी ही बात में खुद ही फँस गयी थी..
पूजा : "देखो जीजू, आप फिर से शुरू हो गये....''
अजय (फिर से कान पकड़कर) : "ओके बाबा ....अब नही....तुम चाहो तो मुझे
इसके लिए कोई सज़ा दे दो...''
उसकी ये बात सुनकर पूजा का चेहरा एकदम से खिल उठा..और वो तपाक से
बोली : "शॉपिंग..''
अजय : "हाँ हाँ क्यों नही ..चलो अभी चलते हैं ..''
पूजा : "और आपका ऑफीस ..."
अजय ने बड़े स्टाइल से अपना फोन निकाला और एक नंबर लगाकर बोला :
"सुनो दीपक, मैं आज ऑफीस नही आ सकूँगा...मुझे अपनी साली को
शॉपिंग करवाने ले जाना है...बॉस को बोल देना..बाइ''
उसकी ये बात सुनकर पूजा इतनी इंप्रेस हुई की एकदम से उछलकर वो अजय के
गले से जा लगी..और अजय ने भी उसकी कमर मे हाथ डालकर उसकी छाती के
नरम हिस्से को अपनी चेस्ट से लगा कर ज़ोर से भींच दिया..पूजा के मुँह से एक
आह्ह्ह निकल गयी..



images-1
तभी पीछे से रजनी की आवाज़ आई : "तो हो गयी सुलह जीजा-साली में ...हम्म्म ...''
दोनो बेचारे ऐसे अलग हुए जैसे दोनो की चोरी पकड़ी गयी हो...
और रजनी मंद-2 मुस्कुराते हुए उनके लिए नाश्ता लगाकर चली गयी.अजय
यही सोचता रह गया की उसकी सास ने कोई इश्यू क्यों नही बनाया इस
बात का..
खैर, उसके बाद सभी ने मिलकर नाश्ता किया और पूजा ने कहा की वो
अजय के साथ शॉपिंग जा रही है,रजनी ने भी कुछ नही कहा और कुछ ही देर
में अजय और पूजा उसकी गाड़ी मे बैठकर एक बड़े से माल की तरफ चल दिए.
पूजा ने रेड कलर की टी शर्ट पहनी थी और नीचे जीन्स, और टी शर्ट शार्ट में
थी, इसलिए उसकी नाभि वाला हिस्सा बड़े ही सेक्सी तरीके से उजागर
हो रहा था


images-2
आज अजय पूजा को अच्छी तरह से इंप्रेस करना चाहता था, इसलिए उसने
पूजा को कुछ भी लेने की छूट दे दी.
वैसे तो वो अपनी बीबी प्राची को भी खुलकर शॉपिंग करवाता था पर
आज बात कुछ और थी...अपनी शॉपिंग के बदले वो पूजा और अपने बीच की
उस दूरी को मिटाना चाहता था जिसे पूजा अच्छा नही मानती थी.
वो दोनों करीब 3 घंटे तक शॉपिंग करते रहे , और पूजा ने अपनी पसंद का
काफी सामान भी लिया
वो एक बड़े से शोरुम से निकल ही रहे थे की अचानक पूजा ने चौंकते हुए कहा :
"ओह्हो ये सोनी की बच्ची को यहीं पर आना था...''
अजय ने भी उस तरफ देखा जहाँ पूजा की नज़रें थी, तो उसकी आँखे फटी की
फटी रह गयी...एक लंबी और सेक्सी सी लड़की एक चूज़े जैसे लड़के के साथ घूम
रही थी, दोनो ने एक दूसरे की बाहों मे बाहें डाली घूई थी..लड़का तो झंडू
सा था पर वो लड़की पटाखा थी एकदम...रंग बिल्कुल सांवला सा था पर
उसके हर डिपार्टमेंट में काफ़ी माल भरा हुआ था, छातियाँ लगभग 36 की
थी...एकदम टाइट..और उसपर उसने जो टॉप पहना हुआ था वो भी सिर्फ
पतली डोरी पर ही टिका हुआ था ...और नीचे उसने एक लॉन्ग स्कर्ट पहनी
हुई थी जिसके साइड में कट था जिसमे से उसकी गुदाज और मांसल टांग पूरी
नंगी थी... और नीचे लॉन्ग बूट..... उसकी जांघों की मांसपेशिया चलने से
अलग ही चमक रही थी...और पीछे की तरफ निकली हुई उसकी गांड भी
काफी बड़ी थी और उसकी आँखे बड़ी ही सेक्सी थी ...


images-3


बॉडी पर काफी टैटू
भी बनवा रखे थे उसने जिसकी वजह से वो बहुत सेक्सी लग रही थी , ऐसा लग
रहा था की जैसे कोई मॉडेल रेम्प वॉक से निकलकर सीधा वहाँ आ गयी
है..ब्लैक ब्यूटी लग रही थी वो...
अजय को ऐसे बिना पलकें झपकाए उस तरफ देखते हुए पाकर पूजा ने उसे
आवाज़ दी : "जीजू.....ओ जीजू .... कहाँ खो गये...सच में आप मर्दों को तो
बस कोई लड़की दिखनी चाहिए....लार निकलने लग जाती है बस...''
अजय ने झेंपटे हुए अपनी नज़रें पूजा की तरफ कर ली..
पूजा : "वो मेरी क्लासमेट है...सोनी ...और वो उसका बाय्फ्रेंड है...शायद...''
अजय : "शायद ..??''
पूजा : "हाँ , शायद, क्योंकि मैने भी आज पहली बार ही इस लड़के को देखा
है....सोनी ने बताया था की कॉलेज के बाहर का है उसका ये बाय्फ्रेंड...''
अजय : "तो चलो ना...मिलते हैं इनसे...आख़िर तुम्हारी क्लासमेट है ...''
ऐसी सेक्सी लड़की से मिलने के लिए कौन नही तड़पेगा ...
पूजा ने उसकी बाजू पकड़ कर उसे रोक दिया और फुसफुसाई : "अर्रे नही
जीजू .....अभी नही मिल सकती मैं ....''
अजय : "क्यों ??..''
पूजा (झिझकते हुए) : "वो ...दरअसल ....कल सोनी ने मुझे बोला था की
उसका बाय्फ्रेंड आ रहा है और मैने भी उसको झूट बोला हुआ था की मेरा
भी एक बाय्फ्रेंड है जो कॉलेज के बाहर का है...तो उसने सजेस्ट किया था
की आज हम सभी मूवी चलते हैं...मैने तो बहाना बना कर मना कर दिया...पर
आपके साथ अचानक शॉपिंग का प्रोग्राम बना तो मुझे इसके बारे में याद
ही नही रहा...और ये पागल यहीं पर मिल गयी....चलो ना जीजू कहीं और
चलते हैं..''
अजय : "ज़रा सी है नही तू और इन चक्करों में पड़ी है , तेरी दीदी को बोल
दिया ना तो अच्छी तरह से खबर लेगी वो...''
पूजा : "वो तो घर की बात है जीजू, अभी तो चलो, मुझे इसके सामने एम्बेरस
नही होना अभी...''
अजय बेचारा मन मारकर रह गया, और अपनी साली की बात मानकर
पलटकर माल से बाहर की तरफ चल दिया.वैसे भी वो एक ही दिन में
दोबारा उसे नाराज नहीं करना चाहता था
और तभी उन्हे पीछे से आवाज़ सुनाई दी
''अरे , पूजा....तू यहाँ .....''
पूजा ने अपनी आँखे भींच ली और बुदबुदाई ''मर गयी....''
और फिर हंसते हुए एकदम से पलटी और सोनी को देखकर चौंकने का नाटक
करती हुई बोली : "सोनी ....तू यहाँ ....ओह्ह माय गॉड ....आई कांट बिलीव इट ....''
और वो भागती हुई गयी और उससे लिपट गयी..
सोनी की नज़रें अजय को घूर रही थी...और उसके साथ उसका उल्लू जैसा बी
एफ बेचारा कुछ समझने की कोशिश कर रहा था..
सोनी : "यू लॉयर , तूने तो मना करा था, फिर कैसे आ गयी...''
पूजा : "अरे नही, ऐसा कुछ नही है...दरअसल ...चल छोड़, वो बाद में बताउंगी ,
इनसे मिल, ये है मेरे.....''
उसकी बात को काटकर अचानक अजय बीच में बोल पड़ा : "हाय , आई एम
अजय, पूजा का बाय्फ्रेंड...''
सोनी की आँखे गोल सी होकर रह गयी, इतना स्मार्ट लड़का और वो भी
इस मोटी सी दिखने वाली पूजा का बाय्फ्रेंड...और उसने झुककर पूजा के
कान में कहा : "ओह्ह माय गॉड पूजी, ही इज़ सो हॉट....''
पूजा बेचारी हैरान परेशान सी अजय को घूर रही थी....उसने तो इस बारे में
सोचा भी नही था की सोनी को ये भी बोल सकती है वो...पर अजय ऐसा
करेगा उसने सोचा भी नही था...वो अपनी आँखे गोल करके उससे इशारों में
पूछ रही थी की ऐसा क्यो किया तुमने..
अजय ने उसकी कमर में हाथ डालकर उसे अपनी तरफ खींचा और उसके कान में
कहा : "मुझे जीजा बताकर कुछ नही मिलता, अपना बाय्फ्रेंड बोलकर कुछ
इंप्रेशन जमाओ अपनी फ्रेंड के उपर...''
पूजा की आँखों में भी चमक आ गयी....वैसे भी आजकल इंप्रेशन का ही
जमाना है...हर कोई एक दूसरे से उपर ही दिखना चाहता है, फिर वो चाहे
ब्रांड हो या बाय्फ्रेंड...
और अजय किसी भी एंगल से शादी शुदा तो लगता ही नही था...और
स्मार्ट तो वो था ही...ऐसा बाय्फ्रेंड देखकर तो किसी भी लड़की को
अपनी फ्रेंड से जलन हो जाएगी..
पूजा ने भी उसका साथ देते हुए कहा : "बस ये अभी फ्री हुआ है, वरना तुमसे
पहले ही मिल चुके होते..''
सोनी तो अपनी आँखे फाड़-फाड़कर अजय को घूरे जा रही थी...वो भी
बोली : "हाँ...कुछ टाइमपास तो होता मेरा भी, मूवी भी बेकार सी
थी...और उपर से इसने भी बोर करके रख दिया...''
सोनी ने बुरा सा मुँह बनाते हुए अपने घोंचू बाय्फ्रेंड की तरफ इशारा
किया..वो बेचारा मुँह नीचे करके रह गया.
अजय समझ गया की सिर्फ पैसों के चक्कर में सोनी ने इसे अपना बी एफ
बनाया हुआ है
पूजा शायद ज़्यादा देर उनके साथ रुकना नही चाहती थी...वो बोली :
"ओके सोनी , हम चलते हैं...मुझे घर भी जल्दी पहुँचना है ....बाय ...कल कॉलेज
में मिलते हैं...''
इतना कहकर पूजा ने अजय की बाजू को अपनी बगल में लपेटा और निकल
गयी...अजय ने भी मौके का फायदा उठाते हुए अपनी कोहनी को उसके
मुम्मे के अंदर घुसा दिया...
पूजा : "जीजू, संभल जाओ...हाथ पकड़ा है,इसका मतलब ये नही की तुम मेरा
ग़लत फायदा उठाओ...''
अजय ने झुककर उसके कान पर किस्स कर दिया और बोला : "मैं तो अपनी
तरफ से सही फायदा उठा रहा हु, तुम्हे गलत लगे तो मैं क्या करूँ , वैसे वो अभी
तक हमें ही देख रही है...कुछ तो रियल लगना चाहिए ना...''
जवाब में पूजा ने एक बार फिर से चिढ़ते हुए अजय के कंधे पर हल्के से चपत लगा
दी..और दूर खड़ी सोनी समझ रही थी की कितना प्यार है इन दोनों में
...कल पता करूँगी इससे की कैसे पटाया इतना स्मार्ट लड़का ...
Mast update Bhai
 
Top

Dear User!

We found that you are blocking the display of ads on our site.

Please add it to the exception list or disable AdBlock.

Our materials are provided for FREE and the only revenue is advertising.

Thank you for understanding!