• If you are trying to reset your account password then don't forget to check spam folder in your mailbox. Also Mark it as "not spam" or you won't be able to click on the link.

Erotica जोरू का गुलाम उर्फ़ जे के जी

komaalrani

Well-Known Member
19,732
45,748
259
Phagun ke din Chaar - Updates posted,

भाग ८ -चिकनी चमेली,

please read, enjoy like and share comments.
 

arushi_dayal

Active Member
588
2,487
124
अगर कंचन और ससुर कहानी के लेखक आपकी इस कविता को पढ़ रहे होंगे तो निश्चित ही आपके आभारी होंगे।

उस कथा के उसी रूप को आपने बरक़रार रखा है और हर पात्र को इस रूपांतरण में जगह दी, विमला जिसने कंचन के मन में आग सुलगायी उसका भी आपने बहुत अच्छा निरूपण किया है। और आखिरी की चार पंक्तियों में कहानी का सार निचोड़ के रख दिया है।


देख के लम्बा मोटा लौड़ा फिसल जाये कोई भी नारी
लंड और चूत का रिश्ता होता है सब रिश्तों पर भारी

बेमतलब से तुम ना उलझो सोच इन रिश्तो की बातें
लंड और चूत का सच्चा रिश्ता बाकी सब झूठे है नाते


अगली पोस्ट का इन्तजार रहेगा

और आपको बसंत पंचमी की शुभ कामना

और इस शुभ दिन मैंने फागुन के दिन चार को पोस्ट करना शुरू कर दिया, ये लम्बी कहानी है, आपके साथ की अपेक्षा रहेगी।

लिंक शेयर कर रही हूँ।
Thanks Komal ji…third part coming soon
 

arushi_dayal

Active Member
588
2,487
124
Part 3

एक दिन फिर सुबह सुबह बदन पर मल के तेल
बड़े मजे से बाहर आंगन में ससुर जी दंड रहे पेल
बदन पे उनके बधा हुआ था एक छोटा सा लंगोट
उस लंगोट से बाहर झाक रहे दो मोटे से अखरोट

IMG-0783 IMG-0623
देख कठोर बदन ससुर का दिल में उठी इक टीस
ससुर जी होते मेरे पति तो अपने नीचे देते पीस
देख उभार लौड़े का लंगोट में अरमान लगे मचलने
डाल हाथ कच्छी में अपनी मैं लगी थी चूत मसलने

IMG-0716 IMG-0698
एक जवान छोरे की भँति वो ऐसे पेल रहे थे दंड
मुझे लगे ऐसे वो जैसे मेरी चूत में पेल रहे हो लंड
वैसे ही मैं तड़प रही थी पिछले तीन महीने से प्यासी
ससुर के नंगे बदन ने मेरी प्यास थी और भड़का दी

IMG-0712 IMG-0645 IMG-0647
रसोईघर में जाके फिर मैं एक मोटा सा खीरा लाई
देके अपनी चूत में उस को मैंने अपनी प्यास बुझाई
लन कीप्यास कहां बुझती है एक बेजान से खीरे से
लगी रेंगने हजारो चींटियाँ नीचे मेरी चूत के चिरे में

IMG-0787 IMG-0695 IMG-0643
एक अदद लम्बे लौड़े की मुझे अब थी बहुत तलाश
बिना चुदाए चुत इतने दिनों से मैं होने लगी हताश
काश ससुर जी आज ही मुझे अपने नीचे बिछा ले
और चोद चोद के चूत मेरी को इसकी आग बुझा दे

IMG-0686 IMG-0634 IMG-0627
 

komaalrani

Well-Known Member
19,732
45,748
259
Part 3

एक दिन फिर सुबह सुबह बदन पर मल के तेल
बड़े मजे से बाहर आंगन में ससुर जी दंड रहे पेल
बदन पे उनके बधा हुआ था एक छोटा सा लंगोट
उस लंगोट से बाहर झाक रहे दो मोटे से अखरोट

IMG-0783 IMG-0623
देख कठोर बदन ससुर का दिल में उठी इक टीस
ससुर जी होते मेरे पति तो अपने नीचे देते पीस
देख उभार लौड़े का लंगोट में अरमान लगे मचलने
डाल हाथ कच्छी में अपनी मैं लगी थी चूत मसलने

IMG-0716 IMG-0698
एक जवान छोरे की भँति वो ऐसे पेल रहे थे दंड
मुझे लगे ऐसे वो जैसे मेरी चूत में पेल रहे हो लंड
वैसे ही मैं तड़प रही थी पिछले तीन महीने से प्यासी
ससुर के नंगे बदन ने मेरी प्यास थी और भड़का दी

IMG-0712 IMG-0645 IMG-0647
रसोईघर में जाके फिर मैं एक मोटा सा खीरा लाई
देके अपनी चूत में उस को मैंने अपनी प्यास बुझाई
लन कीप्यास कहां बुझती है एक बेजान से खीरे से
लगी रेंगने हजारो चींटियाँ नीचे मेरी चूत के चिरे में

IMG-0787 IMG-0695 IMG-0643
एक अदद लम्बे लौड़े की मुझे अब थी बहुत तलाश
बिना चुदाए चुत इतने दिनों से मैं होने लगी हताश
काश ससुर जी आज ही मुझे अपने नीचे बिछा ले
और चोद चोद के चूत मेरी को इसकी आग बुझा दे

IMG-0686 IMG-0634 IMG-0627
सामने हलवाई की दूकान पर गरम गरम जलेबी निकल रही हो,

रसीला चमचम रखा हो, मीठा कलाकंद।

और खाने को न मिले,... जो हालत किसी भूखे की नदीदे की होती है वही हालत कंचन की हो रही थी, ऊपर से विमला ने ससुर के पौरुष का बखान करके और उसकी हालत ख़राब कर दी, ...

और लंगोट में बंद, लेकिन एक प्यासी सुहागन मन की आँखों से देख रही थी

बदन पे उनके बधा हुआ था एक छोटा सा लंगोट


उस लंगोट से बाहर झाक रहे दो मोटे से अखरोट

देख कठोर बदन ससुर का दिल में उठी इक टीस

ससुर जी होते मेरे पति तो अपने नीचे देते पीस

देख उभार लौड़े का लंगोट में अरमान लगे मचलने

डाल हाथ कच्छी में अपनी मैं लगी थी चूत मसलने

सच में सुहागन की हालत कुँवारी से ज्यादा खराब होती है, वो स्वाद ले चुकी होती है, एक बार नहीं कई बार,... और उस स्वाद को याद कर कर के हजार चीटियां चुनमुनिया में चिकोटी काटती है, और सामने लंगोट में बंद मूसलचंद हों,... तो वो क्या न करेगी उस लंगोट को खोलने के लिए,...

और खीरे वाली बात भी आपने एकदम अच्छी कही,

लन कीप्यास कहां बुझती है एक बेजान से खीरे से

लगी रेंगने हजारो चींटियाँ नीचे मेरी चूत के चिरे में


खीरे और चीरे की तुक भी अपनी अच्छी मिलाई और ये बात एकदम सही है , खीरा हो, सेक्स ट्वायज हों, डिलडो, वाइब्रेटर हों लेकिन जो बात असली मूसलचंद में है, वो वाइब्रेटिंग, पल्सेटिंग फीलिंग

बहुत ही अच्छा अपडेट, ... आपके नियमित अपडेट कथा की गति को बनाये रखते हैं

बहुत बहुत आभार

Thanks Thank You GIF by 大姚Dayao
 

komaalrani

Well-Known Member
19,732
45,748
259
Last update is on page 1184

जोरू का गुलाम भाग २१७

गुड्डी का पिछवाड़ा





anal-cu-bw-6666-tumblr-lr4czetj-Bm1r2gsrto1-1280.jpg






गुड्डी की किस तरह , क्या कोई धुनिया रुई धुनता होगा , जिस तरह गुड्डी रानी की गांड धुनी जा रही थी , साथ में जीजू की उंगलिया तेजी से गुड्डी की सहेली के अंदर बाहर ,
गुड्डी काँप रही थी और थोड़ी देर में वो झड़ने लगी , लेकिन कमल जीजू की रफ़्तार नहीं कम हुयी

न गुड्डी की चूत में अंदर बाहर होती उनकी ऊँगली धीमी हुयी न गुड्डी की गांड में अंदर बाहर होता उनका मोटा खूंटा ,...

और बस पांच छः मिनट के अंदर गुड्डी फिर दुबारा झड़ रही थी और साथ में ,... कमल जीजू , खूंटा पूरी तरह अंदर घुसा ,... वो झड़ते हुए रुक गए , फिर दुबारा और ,... अब गुड्डी के पैरों ने जैसे जवाब दे दिया और वो वही गद्दे पर कटे पेड़ की तरह गिर पड़ी।

कमल जीजू भी साथ साथ ,...



Please do read, enjoy like and comment.
 

komaalrani

Well-Known Member
19,732
45,748
259
Are wah unko bhi mil gai sali. Mela chhonu monu. Chhodna mat ritu. Amezing combination. Kamal jiju with gudi. Vo with ritu. And komal with ajay jiju. Maza aaega. Ye game jaldi khatam mat karna

images-10 images-11 images-16
Thanks apko bina ASS to MOUTH ke ANAL sex ka Maja adhura hai aur pahli baar thodi jor jarbardsti karni hi padhti hai

bahoot bahoot thanks
 

komaalrani

Well-Known Member
19,732
45,748
259
Maza aa gaya. Nari ras se kanya ras ka milan my fev. Superb guddi rani ki pichhade ke bad agadi. Wah wah wah. Par ritu aur unka khel bahot kam dikhaya.

images-17 images-18 images-20
Aaayega Jija saali ka Milna, Rinu par inki chaahdhyi hogi aur jabrrdst hogi, ek do part ke baad tab tak intervaali ke intercourse ka maja lijiye


aur Phagun ke din chaar ka pahla part post ho gaya hai time nikaal ke uspe bhi ek najar maar lijiyegaa.

bahoot bahoot thanks
 
Last edited:

komaalrani

Well-Known Member
19,732
45,748
259
Man gae. Guddi rani ka to ashli khel to ab huaa. Chadh gaya shand bachhiya par. Dono jiju se apni apni sali ka vo conversation maza aa gaya. Mazak me to kisi ko nahi chhoda. Jabardast

images-21 images-22 435fbba5-5325-4e19-9563-06d8ec98c159
Ekdam sahi kaaha aapne Saali ho aur gaali na de to fir saali kis baat ki
 

komaalrani

Well-Known Member
19,732
45,748
259
Are bas kab se isi ki kami thi. Akhir unki bhi to sali he. Maza aa gaya. Gariyane ke sath ritu ke jo daylog he jabardast.

images-23 images-24 images-25
image upload
is baar aap dekhiyega sab se jyada role Guddi aur Rinu ka inki saali ka hi rahega
 

arushi_dayal

Active Member
588
2,487
124
Part 4
मेरे पीछे से क्या पकती है खिचड़ी मैं सब से अंजान

एक दिन मैं गई बाजार को लेने कुछ जारुरी सामान

जल्दी लौट के जब बाजार से मैं घर को वापस आई

बाबूजी के कमरे से मुझे हल्की से सिस्की दी सुनाई

खोल के देखि जब उनके कमरे की खिड़की थोड़ी

बाबूजी चोद रहे बिमलाको बिस्तर पर बना के घोड़ी

आंखें लगा लगी देखने में कमरे में फिर पूरे ध्यान से

बाबूजी के लौड़े की तलवार घुसी चूत की मयान में

हचक हचक के चोद रहे थे बिमला को पूरे जोर से

गूँज रहा पूरा कमरा बिमला की सिस्की के शोर से

मालिक जैसा कहा था आपने चिंगारी मैंने सुलगा दी

कंचन बहू की चूत की अब मैंने खुजली खूब बडा दी

अब सोच समझ कर अब आपको कदम बढ़ाना होगा

जल्द ही कंचनबहू को अपने लौड़े के नीचे लाना होगा

शाबाश बिमला तुमने कर दिया जैसा कहा था काम

उसी बेहतर काम का मैं आज तुझे दे रहा हूं ये इनाम

धीरे-धीरे कर के अब खुलने लगे बंद कड़ियो के धागे

बाबूजी का जिक्रकिया क्यों बिमला चाची ने मेरे आगे

लेकिन सच यह था कि अब मैं भी चुदना थी चाहती

इस निगोड़ी चुत की अब मुझसे गर्मी सही नहीं जाती

IMG-0749 IMG-0747 IMG-0748 IMG-0739 IMG-0740 IMG-0744
 

komaalrani

Well-Known Member
19,732
45,748
259
24 lakh Views

thank friends.

🙏🙏:thank_you::thank_you:🙏🙏
 
Top